संविधान सभा | Constitutional Assembly In Hindi | Samvidhan Sabha

Share With Friends

नमस्कार दोस्तों इस पोस्ट में हम आपको भारतीय संविधान सभा (Constitutional Assembly In Hindi) के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं | संविधान सभा ने देश के संविधान का निर्माण किया था और इसके बारे में पूरी महत्वपूर्ण जानकारी आपको इस पोस्ट में मिलेगी, क्योंकि यह टॉपिक किसी भी परीक्षा के लिए बहुत महत्वपूर्ण है |

Constitutional Assembly In Hindi
Constitutional Assembly In Hindi

संविधान सभा

  • संविधान सभा देश में संविधान के निर्माण के लिए प्रतिनिधियों की सभा को “संविधान सभा” कहते हैं |
  • कैबिनेट मिशन की संस्तुतियों के आधार पर भारतीय संविधान के निर्माण के लिए संविधान सभा का गठन जुलाई 1946 में किया गया |
  • संविधान सभा की रचना हेतु संविधान सभा का विचार सर्वप्रथम स्वराज्य पार्टी ने 1924 में प्रस्तुत किया था |
  • शुरुआत में संविधान सभा में कुल 389 सदस्य थे, जिनमें 293 ब्रिटिश प्रांतों से, 93 देशी रियासतों से और 4 चीफ कमिश्नर क्षेत्रों के प्रतिनिधि शामिल हुए |
  • इन्हीं सदस्यों में से 208 कांग्रेस से 73 मुस्लिम लीग से और 15 अन्य या स्वतंत्र उम्मीदवार निर्वाचित हुए |
  • संविधान सभा में कुल 15 महिला सदस्य शामिल थी |
  • देश विभाजन के बाद संविधान सभा का पुनर्गठन 31 अक्टूबर 1947 को किया गया, जिसके तहत सदस्यों की संख्या 299 हो गई इनमें 229 विभिन्न प्रांतों से और 70 देशी रियासतों के सदस्य शामिल थे |
  • 26 जुलाई 1947 को पाकिस्तान के लिए अलग संविधान सभा की घोषणा हुई |
  • संविधान निर्माण की प्रक्रिया 2 वर्ष 11 माह 18 दिन चले जिसमें कुल 114 दिन चर्चा हुई |
  • संविधान निर्माण में कुल खर्च ₹63,96,729 हुआ |
  • संविधान बनने के समय इसमें कुल 22 भाग 395 अनुच्छेद और 8 अनुसूचियां थी |

संविधान सभा से संबंधित महत्वपूर्ण तिथि

  • 9 दिसंबर 1946 को संविधान सभा की प्रथम बैठक हुई, जिसमें सभा के अस्थाई अध्यक्ष डॉक्टर सच्चिदानंद सिन्हा को चुना गया |
  • मुस्लिम लीग ने इस बैठक का बहिष्कार किया |
  • अगली बैठक 11 दिसंबर को हुई जिसमें स्थाई अध्यक्ष डॉ राजेंद्र प्रसाद को चुना गया |
  • 13 दिसंबर 1946 को संविधान सभा की अगली बैठक में पंडित जवाहरलाल नेहरू ने उद्देश्य प्रस्ताव प्रस्तुत किया |
  • संविधान सभा ने संविधान का तीन बार वाचन किया था और अंतिम रूप से 26 नवंबर 1949 को संविधान सभा द्वारा पारित कर दिया गया |
  • 26 नवंबर 1949 को संविधान पारित करने के समय कुल 284 सदस्य उपस्थित थे |
  • इस दिन केवल 15 अनुच्छेद लागू हुए बाकी पूरा संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ |
  • संविधान सभा की अंतिम बैठक 24 जनवरी 1950 को हुई और उस दिन डॉ राजेंद्र प्रसाद को भारत का प्रथम राष्ट्रपति चुना गया और संविधान सभा को अंतरिम संसद के रूप में चुना गया |
  • भारत का संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ क्योंकि 29 नवंबर 1949 को पूरा बनकर तैयार होने के बाद भी 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ क्योंकि 26 जनवरी 1930 को कांग्रेस ने लाहौर में रावी नदी के तट पर तिरंगा लहरा कर पहली बार स्वतंत्रता दिवस मनाया इसीलिए संविधान को 26 जनवरी को लागू करने का दिन चुना गया 26 जनवरी को हम गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं और 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के रूप में

संविधान सभा द्वारा अपनाई गई तीन महत्वपूर्ण कार्य –

  1. संविधान सभा ने राष्ट्रीय ध्वज को मंजूरी 22 जुलाई 1947 को दी थी |
  2. संविधान सभा ने राष्ट्रगान को मंजूरी 24 जनवरी 1950 को दी थी |
  3. संविधान सभा ने राष्ट्रगीत को मंजूरी 26 जनवरी 1950 को दी थी |

स्वतंत्र भारत का पहला मंत्रिमंडल

  1. जवाहरलाल नेहरू – प्रधानमंत्री, विदेश मंत्री
  2. सरदार बल्लभ भाई पटेल – गृहमंत्री, सूचना व प्रसारण मंत्री
  3. डॉ राजेंद्र प्रसाद – खाद्य एवं कृषि मंत्री
  4. मौलाना अबुल कलाम आजाद – शिक्षा मंत्री
  5. जॉन मथाई – रेल मंत्री
  6. बीआर अंबेडकर – विधि मंत्री
  7. जगजीवन राम – श्रम मंत्री
  8. सरदार बलदेव सिंह – रक्षा मंत्री
  9. राजकुमारी अमृत कौर – स्वास्थ्य मंत्री
  10. सी एच बाबा – वाणिज्य मंत्री
  11. षणमुगम शेट्टी – वित्त मंत्री
  12. डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी – उद्योग और आपूर्ति मंत्री

संविधान सभा की प्रमुख समितियां

1.प्रारूप समितिडॉ. बी आर अंबेडकर7
2.कार्य संचालन समितिके एम मुंशी3
3.संघ शक्ति समितिपंडित जवाहरलाल नेहरू9
4.मूल अधिकार एवं अल्पसंख्यक समितिसरदार पटेल54
5.संघ संविधान समिति पंडितजवाहरलाल नेहरू7
6.प्रक्रिया समितिडॉक्टर राजेंद्र प्रसाद7
7.वार्ता समितिडॉ राजेंद्र प्रसाद7
8.झंडा समितिजेबी कृपलानी7
9.प्रांतीय संविधान समितिसरदार पटेल7
10.अल्पसंख्यक उप समितिएचसी मुखर्जी7

प्रारूप समिति

बी एन राव के द्वारा किए गए संविधान के प्रारूप पर विचार-विमर्श करने के लिए संविधान सभा ने 29 अगस्त 1947 को एक संकल्प पारित किया, जिसके तहत प्रारूप समिति का गठन किया गया | प्रारूप समिति के अध्यक्ष डॉक्टर भीमराव अंबेडकर को बनाया गया | प्रारूप समिति में 7 सदस्य थे, जिनका नाम नीचे दिया गया है –

  1. डॉ. भीमराव अम्बेडकर (अध्यक्ष)
  2. एन. गोपाल स्वामी आयंगर
  3. अल्लादी कृष्णा स्वामी अय्यर
  4. कन्हैयालाल माणिकलाल मुंशी
  5. सैय्यद मोहम्मद सादुल्ला
  6. एन. माधव राव
  7. डी. पी. खेतान (1948 में इनकी मृत्यु के बाद टी. टी. कृष्माचारी को सदस्य बनाया गया)

Samvidhan Sabha Video Lecture

भारतीय संविधान सभा के बारे में पूरी जानकारी इस वीडियो में देखें, अगर आप वीडियो के माध्यम से समझना चाहते हैं, तो इसे जरूर देखें |

Questions About Constitutional Assembly In Hindi

संविधान सभा की पहली बैठक कब हुई थी ?

संविधान सभा की पहली बैठक 9 दिसंबर 1946 को नई दिल्ली में केंद्रीय भवन में हुई थी ।

संविधान सभा के अस्थाई अध्यक्ष कौन बने थे ?

संविधान सभा के अस्थाई अध्यक्ष डॉ सच्चिदानंद सिन्हा को 9 दिसंबर 1946 को चुना गया ।

संविधान सभा के सदस्य कौन थे ?

शुरुआत में संविधान सभा में कुल 389 सदस्य थे, जिनमें 293 ब्रिटिश प्रांतों से, 93 देशी रियासतों से और 4 चीफ कमिश्नर क्षेत्रों के प्रतिनिधि शामिल हुए |पूरी जानकारी इस पोस्ट में दी गई हैं ।

संविधान सभा के अध्यक्ष कौन थे ?

11 दिसंबर 1946 को संविधान सभा ने डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद को अध्यक्ष नियुक्त किया । अतः डॉ राजेंद्र प्रसाद संविधान सभा के अध्यक्ष थे तथा बाद में भारत के दो बार राष्ट्रपति रहे ।

यह टॉपिक भी जरूर पढ़े –

दोस्तों आज किस पोस्ट में हमने आपको संविधान सभा के बारे में पूरी जानकारी दी हैं, अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी है तो इसे अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरूर कीजिए ।

ऐसे ही नई जानकारी पाने के लिए अभी हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन कीजिए


Share With Friends

Naresh Kumar is Founder & Author Of EXAM TAK. Specialist in GK & Current Issue. Provide Content For All Students & Prepare for UPSC.

1 thought on “संविधान सभा | Constitutional Assembly In Hindi | Samvidhan Sabha”

Leave a Comment

Home
Telegram
Books
Search